सरस सलिल विशेष

बौलीवुड के दिग्गज अभिनेता नसीरूद्दीन शाह आज भी बौलीवुड इंडस्ट्री में बड़े बड़े एक्टर को टक्कर देने का दम रखते हैं. नसीरूद्दीन शाह ने इश्किया, राजनीति, जिंदगी ना मिलेगी दोबारा और बेगम जान जैसी फिल्मों में अपनी एक्टिंग से यह साबित कर दिया कि वह आज भी किसी से कम नहीं हैं. लेकिन एक समय ऐसा भी था जब नसीरूद्दीन शाह को इंडस्ट्री में काम नहीं मिल रहा था.

ऐसे में उन्होंने सोचा कि कहीं बौलीवुड में आने का उनका फैसला गलत तो नहीं है. लेकिन वह लगातार मेहनत करते रहे और उनकी मेहनत काम आखिरकार काम आ ही गई. नसीरुद्दीन शाह आज सिर्फ भारतीय सिनेमा तक ही सीमित नहीं हैं बल्कि वह कई अंतरराष्ट्रीय फिल्मों में भी नजर आ चुके हैं. नसीरूद्दीन शाह शुरू से ही सिंपल लुक वाले एक्टर रहे हैं. जिस वजह से उन्हें लोगों से तरह तरह के कमेंट भी सुनने को मिले हैं.

बात उस समय की है जब नसीरूद्दीन शाह दिल्ली के एनएसडी में पढ़ाई कर रहे थे. उस समय नसीरूद्दीन को देखकर शबाना आजमी ने कहा था कि मुझे आश्चर्य होता है कि ऐसी शक्ल वाले लोग एक्टर बनने की हिम्मत कैसे कर लेते हैं. नसीरूद्दीन शाह ने उस समय शबाना की बातों का बुरा नहीं माना और अपना काम करते रहे.

कुछ दिनों बाद शबाना आजमी के साथ उसी नसीरूद्दीन शाह ने अपनी पहली फिल्म निशांत में काम किया. जिसमें शबाना से ज्यादा नसीरूद्दीन की एक्टिंग की तारीफ हुई. फिल्म सुपरहिट रही और नेशनल अवार्ड भी अपने नाम किया. इसके बाद शबाना आजमी ने नसीरूद्दीन शाह के साथ कई और फिल्मों में काम किया. नसीरूद्दीन शाह ने अपने एक्टिंग के दम पर इस बात को साबित कर दिया कि इंसान के अंदर हुनर हो तो कोई भी कमजोरी उसे कामयाब बनने से रोक नहीं सकती.

इस बात का जिक्र खुद नसीरुद्दीन शाह ने एक इंटरव्यू में किया था उस वक्त उनके साथ ओम पुरी भी उस इंटरव्यू में मौजूद थे.  नसीरुद्दीन शाह का नाम फिल्मी जगत में बड़े ही अदब के साथ लिया जाता है. लोग आज भी उनको एक्टिंग का उस्ताद मानते हैं.