सरस सलिल विशेष

आज भी राजेश खन्ना की फिल्म ‘सफर’ का वो गाना फैंस को उनकी याद दिला जाता है. ‘जिंदगी का सफर, है ये कैसा सफर ‘ गाने में राजेश खन्ना ने इस तरह दर्शकों के सामने पेश किया कि मानो वो गाना उनके लिए ही बना हो.

1970 में आई फिल्म ‘सफर’ को लोगों ने काफी पसंद किया. उन दिनों राजेश खन्ना का क्रेज कुछ ऐसा था कि उनकी फिल्म जिस दिन रिलीज होती थी उस दिन स्कूल और कौलेज से छात्र-छात्राएं गायब नजर आते थे.

राजेश खन्ना के फैंस में उन दिनों एक नाम डिंपल कपाड़िया का नाम भी शामिल था. डिंपल उस समय महज 11 साल की थी लेकिन वो राजेश खन्ना की फिल्मों की दीवानी थी. वह अक्सर स्कूल बंक करके उनकी फिल्में देखने जाया करती थीं. जब फिल्म रिलीज हुई तो डिंपल राजेश खन्ना की फिल्म देखने पहुंच गई.

फिल्म में राजेश खन्ना का रोल उन्हें इतना पसंद आया कि वो काका से मिलने उनके घर आशीर्वाद पहुंच गई और गार्ड से उनसे मिलने देने को कहा. लेकिन गार्ड ने यह कहते हुए कि राजेश खन्ना घर पर नहीं है डिंपल को बाहर का रास्ता दिखा दिया.

डिंपल जा ही रही थी कि अचानक उनकी नजर एक कार पर पड़ी. इस कार में अंजू महेन्द्रू सवार थी, उन दिनों राजेश खन्ना और अंजू महेन्द्रू की लव स्टोरी की खबरें हर तरफ फैली हुई थीं. डिंपल को तो ये समझ आ गया कि राजेश खन्ना घर में ही मौजूद हैं. इसके बाद वो एक बार फिर गार्ड के पास पहुंच गई और उन्हें अंदर जाने देने के लिए कहा.

गार्ड के समझाने के बावजूद भी जब डिंपल नहीं मानी तो गार्ड ने पुलिस को बुलाने की धमकी दी. उस दिन के बाद डिंपल कई दिनों तक रोती रही. हालांकि 15 साल की उम्र में डिंपल ने अपने पसंदीदा एक्टर से शादी कर ली. जिस घर से उन्हें धक्के देकर बाहर निकाला गया था, बाद में उसी घर के गार्ड उन्हें सलाम ठोकने लगे.

Tags: