सरस सलिल विशेष

फिल्म ‘कहो ना प्यार है’ और ‘गदर’ जैसी फिल्मों से अपना सिनेमाई करियर शुरू करने वाली अभिनेत्री अमीषा पटेल अब कहीं खो सी गई हैं. अमीषा शायद पहली ही ऐसी एक्ट्रेस हैं जिनको अपनी पहली दो फिल्मों से वो स्टारडम मिला जो कई अभिनेत्रियों को अपने पूरे करियर में नसीब नहीं हो पाता है. हालांकि उनकी कुछ फिल्में अभी भी अधर में हैं, लेकिन उससे हमें क्या अमीषा को खुद भी कोई उम्मीद नहीं होगी.

वहीं दूसरी ओर कंट्रोवर्सी के दौर भी खत्म होने का नाम नहीं ले रहे. कभी उनके अपने पर्सनल रिलेशनशिप्स, तो कभी उनके अपने पापा से झगड़े अखबारों की सुर्खियां बनते रहे हैं. हालांकि कुछ चीजें ऐसी भी हैं जो इन्हें बॉलीवुड की बाकी एक्ट्रेसेज से अलग करती हैं और वो है उनकी अकेडमिक क्वालिफिकेशन.

अमीषा बॉलीवुड की सबसे ज्यादा पढ़ीं-लिखी अभिनेत्रीयों में से एक हैं, ऐसा कहना गलत नहीं होगा. आइये जानते हैं उनकी पढाई, पर्सनल लाइफ और सिनेमा से जुड़े कुछ खास किस्से :

पटेल का नाम उनके माता-पिता के नामों को मिला के बना है. उनके पापा का नाम अमित और मां का नाम आशा पटेल है.

अमीषा पटेल ने अपनी शुरुआती पढ़ाई मुंबई से करने के बाद यूएस से 2 साल बायो-जेनेटिक इंजीनियरिंग की पढ़ाई की. पर इसे बीच में ही छोड़कर बाद में उन्होंने ‘टफ्ट यूनिवर्सिटी मासुचुसेट्स’ से इकोनॉमिक्स में गोल्ड मैडल के साथ ग्रेजुएशन पूरी की.

राकेश रोशन ने उनको अपनी फिल्म ‘कहो ना प्यार है’ का ऑफर उनके हाई स्कूल पास करने के तुरंत बाद दे दिया था, लेकिन उस वक्त अमीषा ने उन्हें ये कहकर मना कर दिया कि वे आगे की पढाई के लिए यूएस जाना चाहती हैं. उसके बाद इस फिल्म के लिए करीना कपूर को फाइनल कर दिया गया. पर अमीषा के पिता और राकेश रोशन के घरेलू संबंध होने के कारण ये रोल आखिरकार अमीषा को ही मिला.

हालांकि दूसरी फिल्म के लिए अमीषा को खासी मेहनत करनी पड़ी. फिल्म गदर के लिए 500 लड़कियों का ऑडिशन लिया गया, जिसमें से 22 को स्क्रीन टेस्ट के लिए चुना गया. अमीषा भी इस 22 में थी. 12 घंटे ऑडिशन लेने के बाद अमीषा को ‘गदर- एक प्रेम कथा’ की मुख्य अभिनेत्री के तौर पर फाइनल किया गया.

इस फिल्म के लिए अमीषा को ‘फिल्मफेयर स्पेशल परफॉरमेंस अवार्ड’ मिला. शायद आप ये बात भी नहीं जानते होंगे कि रिलीज के बाद ‘गदर’ 21वीं सदी की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली भारतीय फिल्म बनी.

केतन मेहता की फिल्म ‘मंगल पाण्डे – द राइजिंग’ में अमीषा की कास्टिंग प्रोसेस बड़ी दिलचस्प रही थी. इस फिल्म में उन्हें आमिर खान की सलाह पर ऐश्वर्या राय के रिप्लेसमेंट के रूप में चुना गया था, क्योंकि आमिर ने उन्हें बीबीसी के एक शो में देखा था. यहीं आमिर को उनका आई क्यू लेवल भा गया और उन्हें इस फिल्म में बंगाली महिला के किरदार के लिए साइन कर लिया गया.

अमीषा पटेल अपनी निजी जिन्दगी को लेकर भी खासी चर्चा में रहती हैं. पहले विक्रम भट्ट के साथ अपने संबंधों को लेकर और उसके बाद अपने पारिवारिक झमेलों को लेकर. खबरों की मानें तो उनके भाई अश्मित पटेल के साथ भी उनके रिश्ते काफी कड़वे हैं. अपने पापा के खिलाफ तो वो कोर्ट केस भी कर चुकीं हैं. उन्होंने अपने पिता पर आरोप लगाया है की उन्होंने मेरे कमाए हुए पैसों का इस्तेमाल फैमिली बिजनेस को पटरी पर लाने में किया. उन्होंने अपने पिता पर 12 करोड़ रूपये के हेरफेर का आरोप लगाया और साथ ही पैसे वापसी की मांग भी की थी.