सरस सलिल विशेष

बॉलीवुड एक्ट्रेस और मॉडल सारा गुरपाल एक कार्यक्रम के सिलसिले में चंडीगढ़ पहुंचीं. इस दौरान उन्होंने मॉडलिंग में आने के पीछे की कहानी शेयर की. बताया कैसे हरियाणा के रतिया गांव की लड़की एक फोटोग्राफर के चलते मॉडल बनी और फिर एक्ट्रेस. बॉलीवुड मूवी ‘ड्रामा क्वीन’ एक्ट्रेस सारा ने बताया कि एक बार वो कॉलेज परफॉर्मेंस की तैयारी में स्टेज के पीछे बिजी थी, तभी फोटोग्राफर ने लाइट चेक करने के लिए बुलाया. इस दौरान सारा की कुछ फोटोज खींची, जो बेहतरीन थीं. फिर उन्होंने फोटोग्राफर के कहने पर अपना फोटोशूट कराया. इस इंसीडेंट के बाद से सारा को कॉन्फिडेंस आया और उन्होंने ब्यूटी कॉन्टेस्ट में अप्लाई किया और विनर भी बनीं. बाद में सारा 2012 में मिस चंडीगढ़ भी बनीं.

फैशन डिजाइनिंग की पढ़ाई खत्म कर सारा ने सबसे पहले कॉमर्शियल्स और पंजाबी वीडियोज में काम करना स्टार्ट किया. इंडियन क्लासिकल डांस सीखने के दौरान वो यूनिवर्सिटी के डिपार्टमेंट ऑफ इंडियन थिएटर का भी हिस्सा रहीं. अपने 6 साल के करियर में ब्यूटी कॉन्टेस्ट जीतने के बाद उन्होंने ने अब तक कई म्यूजिक वीडियोज, कॉमर्शियल्स और एक्टिंग शूट में काम किया है.

सारा ने कहा कि मैं खुद को एक आर्टिस्ट के तौर पर देखती हूं न कि किसी मॉडल के रूप में. मैंने खुद को किसी एक जोनर में नहीं बांधा क्योंकि मुझे लगता है कि एक आर्टिस्ट को वर्सेटाइल होना चाहिए. उसे हर वो चीज करनी चाहिए जो उसका मन करता है. उन्होंने कहा कि मॉडलिंग और एक्टिंग दोनों ही फील्ड एक दूसरे से अलग हैं. काम करने के तरीके से लेकर बाकी सभी चीजों में. जैसे प्रोफेशनलिज्म, लोगों का बर्ताव, काम करने के तौर-तरीके और नजरिए तक का फर्क मिला. मॉडलिंग में कई बार न चाहते हुए भी कुछ ऐसी चीजें करनी पड़ जाती हैं जिनके बारे में सोचा नहीं होता. वहीं एंटरटेनमेंट की दुनिया में ऐसा नहीं है. अगर आप पॉजिटिव हैं.