सरस सलिल विशेष

बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनम कपूर ने कंगना रनौत और करण जौहर विवाद पर तंज कसा है. सोनम ने अपने एक हालिया इंटरव्यू में कंगना-करण विवाद को बाथरूम रीडिंग मसाला कहा है. कंगना ने करण के शो ‘कॉफी विद करण’ में कई मुद्दों पर अपनी राय बेबाकी से व्यक्त करते हुए कहा था कि करण बॉलीवुड में नेपोटिज़्म (भाई-भतीजावाद) को बढा़वा देते हैं और वो मूवी माफिया हैं. बाद में करण ने कहा था कि कंगना ‘विक्टिम कार्ड’ खेल रही हैं और उन्हें बॉलीवुड इंडस्ट्री इतनी बुरी लगती है तो उन्हें इसे छोड़ देना चाहिए. कंगना ने अब इस पर पलटवार किया है. कंगना ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री एक छोटा सा स्टूडियो नहीं है जो करण को 20 साल की उम्र में उनके पिता ने दिया था, वो सिर्फ इसका एक छोटा सा हिस्सा हैं.

हाल ही में हुए इंटरव्यू में सोनम ने कंगना-करण विवाद पर कहा, ‘मुझे यह बहुत मनोरंजक लगा. यह सबसे बुरी तरह के कीचड़ उछालने जैसा है. मुझे कंगना बहुत मनोरंजक लगी और वो हैं भी. मैं इस पर कुछ ऐसी टिप्पणी नहीं करना चाहती जो अवसरवादी लगे. मेरा मानना ​​है कि आप महिलावादी हैं खासकर तब जब आप दूसरी महिलाओं को खास बनाते हैं. मैं अब तक उसके करियर और उनकी च्वॉइस का सम्मान करती हूं.’

इससे पहले कंगना ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू के दौरान कहा था, करण भाई-भतीजेवाद का क्या मतलब समझते हैं, वो मुझे नहीं पता. अगर उन्हें लगता है कि ये सिर्फ भतीजे, बेटियों और भाई-बहन तक सीमित है तो मुझे इस बारे में कुछ नहीं कहना.

कंगना ने आगे कहा, करण मुझे शो में बुलाने का मौका दे रहे थे, तो मैं बता दूं कि मैं उनके शो से पहले कई बड़े लोगों को अपना इंटरव्यू दिया है. बता दूं कि करण की टीम, मेरी डेट्स के लिए मेरी टीम के पीछे कई महीनों से पड़ी थी. मुझे वहां इन्वाइट किया गया था क्योंकि चैनल को टीआरपी चाहिए होती है और करण तो बस एक पेड होस्ट हैं. मैंने कोई ‘विक्टिम कार्ड’ या ‘वुमेन’ कार्ड नहीं खेला.

करण हाल ही में दो बच्चों के पिता बने हैं, जिनमें से एक बेटी भी हैं, तो कंगना ने कहा कि करण अब एक बेटी के पिता हैं तो ऐसे में उन्‍हें अपनी बेटी को ‘वुमेन कार्ड’, ‘विक्टिम कार्ड’ और ‘सेल्‍फ-मेड-इंडिपेंडेंट वुमेन कार्ड’ जैसे कार्ड्स देने चाहिए. रही बात इंडस्ट्री छोड़ने की तो मैंने अपनी मेहनत से इस इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाई है, तो करण आप मुझे यहां से निकलने के लिए नहीं कह सकते.