सरस सलिल विशेष

मंदिर-मस्जिदों में लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर अपने बयान से विवादों में आए सोनू निगम ने फिर से एक बार इस विषय पर अपनी बात रखी है. सोनू निगम ने कहा मैं खुश हूं कि जो चिंगारी मैंने लगाई थी वो आज आग बन गई है. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने धार्मिक और सार्वजनिक स्थलों पर अवैध तरीके से लाउडस्पीकर बजाए जाने पर रोक लगा दी है.

सरकार ने इसके लिए सभी को हिदायत दी है कि बगैर अनुमति के बज रहे सारे अवैध लाउडस्पीकर 20 जनवरी तक हटा लिए जाएं. धर्मस्थलों, सार्वजनिक जगहों, जुलूसों और जलसों आदि में बिना अनुमति के लाउडस्पीकर बजाने पर रोक का यह फैसला इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद लिया गया है. इस फैसले के बाद सोनू निगम ने मीडिया के सामने अपनी बात रखी है.

एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए सोनू निगम ने कहा कि मैं योगी सरकार के इस फैसले से खुश हूं और चाहता हूं कि पूरे देश में इसका स्वागत होना चाहिए. सोनू निगम ने कहा कि जब हम लोग भी कहीं म्युजिक कौन्सर्ट करते हैं तो हमें भी रात 10 बजे के बाद अपना प्रोग्राम बंद करना पड़ता है क्योंकि वह गैर कानूनी है.

अप्रैल महीने में अपने ट्वीट के चलते उपजे विवाद पर भी सोनू निगम ने अपनी बात रखी. सोनू निगम ने कहा कि मैंने उस ट्वीट में साफ-साफ लिखा था कि चाहे मंदिर हो या मस्जिद दोनों जगहों पर लाउडस्पीकर से मुझे दिक्कत है. सोनू निगम ने कहा कि सभी धर्म में कुछ ऐसे लोग होते हैं जो बात का बतंगड़ बनाते हैं, मेरे केस में भी यही हुआ.

सोनू निगम ने फिल्म ‘पद्मावत’ पर चल रहे विवाद पर कहा कि जो लोग आज फिल्म का विरोध कर रहे हैं वो लगो फिल्म देख कर रोएंगे. सोनू ने कहा कि मुझे विश्वास है कि संजय लीला भंसाली ने बहुत शानदार फिल्म बनाई होगी.