सरस सलिल विशेष

संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बनी फिल्म ‘पद्मावत’ में महारानी पद्मावती की भूमिका निभा रहीं एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के डांस ‘घूमर’ में बड़ा बदलाव किया गया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक गाने के जिन हिस्सों में दीपिका की कमर दिख रही है उसे कम्पयूटर ग्राफिक्स के जरिए छिपाया गया है. दरअसल, जिन हिस्सों में दीपिका की कमर उनके घाघरे से दिख रही है उन्हें महारानी पद्मावती की छवि के विपरीत पाया गया है, जिसके बाद इस गाने में जरूरी बदलाव करने की बात कही गई थी.

एक खबर के मुताबिक सेंसर बोर्ड के सामने जब फिल्म की स्क्रीनिंग की गई तब गाने में ये बदलाव करने की बात बोर्ड के द्वारा कही गई. सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) की जांच कमेटी ने फिल्म के प्रोड्यूसर्स से ‘घूमर’ गाने में मौजूद उन सभी शौट्स को हटाने की मांग की थी, जिनमें दीपिका की कमर दिख रही थी. हालांकि इस तरह की एडिटिंग से गाने की कौरियोग्राफी बिगड़ जाएगी, इसलिए डायरेक्टर ने दीपिका की बेली को कम्प्यूटर ग्राफिक्स के जरिए छिपाने को प्राथमिकता दी.’

entertainment

सेंसर बोर्ड की ओर से सुझाए गए जरूरी बदलाव करने के बाद निर्माताओं ने फिल्म के अंतिम स्वरूप को जमा करा दिया है, लेकिन ‘पद्मावत’ को अभी तक सेंसर बोर्ड की ओर से सर्टिफिकेट जारी नहीं किया गया है. सूत्रों के मुताबिक फिल्म की स्क्रीनिंग और इसे लेकर चर्चा शाम पांच बजे से रात दो बजे तक हुई थी. सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी वहां मौजूद थे और बड़े इतिहासकार भी इस स्क्रीनिंग में शामिल हुए थे. बोर्ड के सदस्यों को इस फिल्म की कहानी में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं दिखा, उन्होंने केवल कुछ छोटे बदलाव करने की सलाह दी.

‘पद्मावत’ के निर्माताओं ने जरूरी बदलाव करते हुए फिल्म के अंतिम स्वरूप को सेंसर बोर्ड को सौंप दिया है, हालांकि इसे अभी बोर्ड की ओर से सर्टिफिकेट नहीं मिला है. पहले कहा जा रहा था कि फिल्म में 300 कट लगाने की बात सेंसर बोर्ड ने कही है, लेकिन इस खबर का खंडन खुद प्रसून जोशी ने कर दिया. उन्होंने कहा कि निर्माताओं ने पांच बदलावों के साथ फिल्म के अंतिम स्वरूप को जमा करा दिया है. फिल्म पद्मावत 25 जनवरी को रिलीज होगी.

उत्तर प्रदेश में रीलीज होगी फिल्म

इसी बीच निर्देशक संजय लीला भंसाली की फिल्‍म ‘पद्मावत’ के लिए एक बड़ी राहत की खबर सामने आई है. बीजेपी शासित गुजरात में इस फिल्‍म को न दिखाए जाने के फैसले के ठीक एक दिन बाद खबर आई कि इस फिल्‍म को उत्तर प्रदेश में ग्रीन सिग्नल मिल गया है. रिपोर्ट्स की मानें तो योगी आदित्‍यनाथ की उत्तर प्रदेश सरकार ने इस फिल्‍म को उत्‍तर प्रदेश में रिलीज होने पर हामी भर दी है. सेट्रल बोर्ड औफ फिल्‍म सर्टिफिकेशन (सेंसर बोर्ड) ने ‘पद्मावत’ को सर्टिफिकेट दे दिया है और अब यह फिल्‍म 25 जनवरी को रिलीज होने वाली है.

गोवा में भी मिल चुकी है हरी झंडी

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का कहना है कि अगर सेंसर बोर्ड ने ‘पद्मावत’ को प्रमाणित कर दिया है तो गोवा सरकार को राज्य में फिल्म की रिलीज को लेकर कोई आपत्ति नहीं है. पर्रिकर ने कहा, “यदि उनके पास सेंसर प्रमाण-पत्र है, तो हमें कोई आपत्ति नहीं है. यदि कानून-व्यवस्था का कोई मुद्दा है, तो हम इसे देख लेंगे.” उन्होंने कहा, “अब तक, हमें फिल्म रिलीज होने की कोई सूचना नहीं मिली है. यदि इसके पास सेंसर प्रमाणपत्र है तो हम इसे नहीं रोक रहे.” उन्होंने कहा, “यदि वे कुछ संशोधनों के साथ सेंसर प्रमाणपत्र के साथ आते हैं, तो हमें इसमें हस्तक्षेप का कोई बड़ा कारण नहीं दिख रहा है.”