सरस सलिल विशेष

हाल ही में बॉलीवुड अभिनेत्री चित्रांगदा सिंह ‘बाबूमोशाय बंदूकबाज’ नाम की एक फिल्‍म की शूटिंग में व्यस्त हैं. खबरों के अनुसार ये फिल्म इसी साल यानि कि 2017 अगस्त में रिलीज की जा सकती है.

लेकिन चित्रांगदा के साथ इस फिल्‍म की शूटिंग के दौरान ऐसा क्या हुआ कि उन्‍होंने फिल्‍म को छोड़ना ही बेहतर समझा और वे वापस मुंबई लौट आयीं. आप जानना चाहते हैं? हम आपको बता देना चाहते हैं उस वक्त इस फिल्म की शूटिंग लखनऊ में चल रही थी और एक बोल्ड सीन की शूटिंग के दौरान, फिल्म के निर्देशक और चित्रांगदा में कहा-सुनी हो गई थी.

बोल्ड सीन की शूटिंग के दौरान निर्देशक और चित्रांगदा में हुई कहा-सुनी

इस घटना के बारे में चित्रांगदा के करीबियों का कहना था कि निर्देशक कुशन नंदी अपनी सीमाएं पार कर रहे थे और यह बात चित्रांगदा बर्दाश्त नहीं कर पाईं. सूत्रों की माने तो नवाज और चित्रांगदा के बीच एक बोल्ड सीन फिल्माया जा रहा था.

यह अंतरंग दृश्य काफी बोल्ड था, जिसमें चित्रांगदा को नवाज बिस्तर पर खींच कर ले जाते हैं और फिर दोनों के बीच सीमाओं के सभी बंधन टूटते हुए द्रश्य फिल्माए जाने थे. ये सीन करते समय चित्रांगदा बेहद असहज थीं और उनकी असहजता शूटिंग के दौरान नजर आ रही थीं और शायद इसी बात से निर्देशक खुश नहीं थे.

चित्रांगदा को निर्देशक की बात अपमानजनक लगी

इसके बाद निर्देशक ने सभी के सामने चित्रांगदा को कुछ ऐसी बात कह डाली जो उन्हें अपमानजनक लगी. चित्रांगदा ने जब इस बारे में आपत्ति जताई तो निर्देशक ने कहा कि वह इस बारे में उनसे बाद में बात करेंगे. यहां हम आपको बता देना चाहते हैं कि इस घटना के बाद चित्रांगदा ने जैसे-तैसे वो सीन तीन टेक में पूरा किया, मगर उन्होंने फिल्म छोड़ने का मन तो बना ही लिया.

चित्रांगदा के नखरे

इसके उलट, फिल्म से जुड़े कुछ लोगों का कहना है कि चित्रांगदा के नखरे दिन-प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे थे. चित्रांगदा अपने कास्ट्यूम्स से भी खुश नहीं थीं. उन्हें पेटीकोट और लो-कट ब्लॉउस पहनने को दिए गए थे, इन्हें भी चित्रांगदा ने पहनने से इनकार कर दिया था.

इसलिए भड़के फिल्म निर्देशक

पेटीकोट और लो-कट ब्लाउस पहने के इनकार से भड़के कुशन नंदी ने चित्रांगदा से कह डाला कि फिल्म ‘देसी ब्वॉयज’ में तो उन्होंने लो कट ब्लाउस पर कोई आपत्ति नहीं जताई थी, तो अब ऐसा क्यों कर रही हैं.

इस पर चित्रांगदा ने जवाब दिया कि वो सुपरस्टार अक्षय कुमार के साथ एक कामर्शियल फिल्म थी और ये एक आर्ट फिल्म है.

खबरों की माने तो बस तभी से निर्देशक कुशन नंदी और चित्रांगदा के बीच फिल्म को लेकर ठीक नहीं चल रहा है. वैसे, ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि जब किसी अभिनेत्री और निर्देशक के बीच फिल्म के सीन्स को लेकर कहा-सुनी हुई हो. गौर करें तो ऐसे कई मामले हैं.