सरस सलिल विशेष

श्‍वेता यादव भोजपुरी सिनेमा में एक स्‍थापित नाम है. लेकिन, बचपन में वे किरन बेदी की तरह पुलिस अफसर बनने का सपना देखा करतीं थीं. पुलिस में नौकरी का मौका भी मिला, लेकिन उसे छोडक़र फिल्मों में आ गईं. श्‍वेता ने बताया कि वे बचपन में पुलिस ऑफिसर बनना चाहतीं थीं. वे किरण बेदी की तरह देश की सेवा करना चाहती थीं. हां, दिल में एक्‍ट्रेस बनने की भी इच्‍छा थी. लेकिन, किस्‍मत में पुलिस की नौकरी नहीं लिखी थी, इसलिए 2012 में पुलिस सब इंस्‍पेक्‍टर पद पर नियुक्त होने का अवसर मिलने पर भी ज्‍वायन नहीं कर सकीं.

बकौल श्‍वेता उन्‍होंने अपने फिल्‍मी करियर की शुरुआत 2013 में प्रदर्शित भोजपुरी फिल्म ‘बंधन’ से की. आगे कुछ गुजराती फिल्मों में भी काम किया. श्‍वेता ने बताया कि वे इन दिनों एक महिला प्रधान फिल्म ‘मैं ससुराल नहीं ले जाउंगी’ बना रही हैं. इसमें श्‍वेता अभिनय भी कर रही हैं.

श्‍वेता को बॉलीवुड में ऑफर्स मिल रहे हैं, लेकिन वे फिलहाल भोजपुरी फिल्‍मों में मुकाम बनाना चाहती हैं. बॉलीवुड में उनकी रोल मॉडल विद्या बालन हैं. श्‍वेता ने कहा कि उन्‍हें विद्या बालन की सभी फिल्में पसंद हैं, लेकिन फिल्म ‘डर्टी पिक्चर’ में उनकी एक्टिंग लाजवाब है. जिस तरह से उन्होंने सिल्क स्मिता का किरदार निभाया वह काबिले तारीफ है. यदि अवसर मिले तो वे भी भोजपुरी फिल्म में सिल्क का किदार निभाना चाहेंगी. श्‍वेता की आने वाली फिल्मों में ‘मैं ससुराल नही जाउंगी’ और ‘परवतिया’ आदि प्रमुख हैं.